साई मंदिर

ANDHRA PRADESH TEMPLE


ANDAMAN & NICOBAR TEMPLE


BIHAR TEMPLE

DELHI TEMPLE

HARYANA TEMPLE

JAMMU & KASMIR TEMPLE

KARNATAKA TEMPLE

MAHARASHTRA TEMPLE

MADHYA PRADESH TEMPLE

ORISSA TEMPLE

PUNJAB TEMPLE

TAMIL NADU TEMPLE

UTTAR PRADESH TEMPLE

WEST BENGAL TEMPLE

TEMPLES OUT OF INDIA



साईं को वही पुकारता है जिस को साईं पुकारता है , डरते क्यों हो जब मैं यहाँ हूँ ।***** बाकी सब तो सपने है, बस साईं ही तेरे अपने है, साईं ही तेरे अपने है, साईं ही तेरे अपने है *****मैं यहाँ हूँ जब क्यों डर लगता है*****मैं हर जगह निराकार और हूँ*****मेरा व्यवसाय आशीर्वाद दे रहा है*****भगवान के लिए पूरी तरह से आत्मसमर्पण करना*****मैं अपने भक्त का दास हूँ*****इंसान में परमात्मा देखें*****मैं अपने नाम को दोहराता है जो कोई भी के किनारे रहते हैं*****मेरे भक्तों को अपने गुरु के रूप में सब कुछ देखते हैं*****भगवान में पूर्ण विश्वास रखो*****पूरी तरह से गुरु में विश्वास करो, यही ही साधना है*****मैं भगवान की अनुमति के बिना कुछ नहीं कर सकते*****मेरे लिए देखो और मैं तुम्हें करने के लिए तत्पर होगा*****हमेशा भगवान के बारे में सोच और आप देखो कि वे क्या करेंगे*****विश्वास और धैर्य है जहाँ तुम हो तो मैं तुम्हारे साथ हमेशा रहेगा*****भगवान की स्तुति हो मैं भगवान का ही दास हूँ*****लाभ और हानि, जन्म और मृत्यु ईश्वर के हाथ में हैं*****मुक्ति वासना के आदी लोगों के लिए असंभव है*****काम, बोलना भगवान के नाम और शास्त्रों पढ़ें: बेकार मत बनो*****